Latest Post

6/recent/ticker-posts

IP Address क्या होता है तथा यह कैसे काम करता है?

आज की इस पोस्ट मे आप पढेंगे की IP Address क्या होता है तथा यह कैसे काम करता हैतो इसे जानने के लिए पूरी पोस्ट को ध्यान से पढे एवं पोस्ट पसंद आने पर Share और Subscribe जरूर करे ताकि मेरी आने वाली सभी Post की Notification आप को मिलती रहे। 

IP Address क्या होता है

IP Address क्या होता है तथा यह कैसे काम करता है?

IP Address का पूरा नाम Internet Protocol Address होता है  और जैसा की इसके नाम से पता चलता है की यह Internet का Addressing system होता है. Internet से communication इसी IP Address की सहायता से संभव होता है.  

Internet पर हम जब भी कोई Information को search engine के द्वारा access करते है तो वह Information हमें इसी IP Address की सहायता से मिल पाती है,यह IP हमारे नेटवर्क कार्ड में कोडेड किये होते है.

IP address काम कैसे करता है

IP address का प्रयोग करते हुए जब हम एक server से दूसरे server  पर या किसी computer पर सूचना भेजते है तो यह तकनीक इस सूचना को टुकड़ो में विभक्त कर देती है जिसे पैकेट के नाम से जाना जाता है तथा प्रत्येक पैकेट पर भेजने वाले का नाम तथा गंतव्य स्थल का नाम दिया होता है जिससे आसानी से  वह सूचना गंतव्य स्थल तक पहुंच जाती है.

IP Address के प्रकार

IP Address मुख्यता 4 प्रकार के होते है 

  1. Private IP Address 
  2. Public IP Address
  3. Static IP Address
  4. Dynamic IP Address 

Private IP Address

इस प्रकार के IP Address का इस्तेमाल अपने device को router और दूसरे device के साथ communicate करने के लिए किया जाता है, Private IP Address को manually set किया जाता है या आपके router के द्वारा ही assign कर दिया जाता है. 

 

Public IP Address

इस प्रकार के  IP Address को Internet Service Provider के द्वारा assign किया जाता है,ये main IP Address होते  है जो आपके network में इस्तेमाल किया जाता है यह दुनिया भर के network device के साथ communicate करने के लिए होते.


Dynamic IP Address 

Dynamic IP Address उन Address को कहा जाता है जो हमेशा बदलते रहते है तथा हम जब भी अपने computer से Internet access करते है तो हमारे ISP के द्वारा इन्हें assign  कर दिया जाता है. 


Static IP Address

Static IP Address उन Address को कहा जाता है जो कभी बदलते नहीं है.

 

Version of IP Address

IP Adress के दो version है जो इस प्रकार है 

IPv4 

यह IP का चौथा version है जो mobile से communication के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यह केवल 4 billion IP addresses को support करता है  इसका मतलब यह केवल 4 billion devices को address प्रदान कर सकता है, इसका example 192.169.0.1 यह है. 

 

IPv6 

जैसे-जैसे communication के devices बढे वैसे-वैसे ही IP Address की कमी महसूस होने लगी क्योकि network device जैसे Mobile ,Computer आदि को communicate करने के लिए इन IP Address की जरुरत होती है इसी समस्या को दूर करने के लिए IPv4 के नए version IPv6 को बनाया गया.

 

IPv6 बनाने का मकसद यही था की Future में कभी भी IP Address की कमी न हो. इसके अलावा यह IPv4 की तुलना में ज्यादा secure है.

 

अन्त में 

आशा है की आपको पूरी पोस्ट पढने के बाद IP Address क्या है तथा यह कैसे काम करता हैइससे समबन्धित बहुत सारी जानकारिया मिल गई होगी. अगर इससे सम्बंधित कोई भी सवाल हो तो पूछ सकते है जल्द ही हमारी टीम आपके सवालों का जवाब देगी. 

यह भी पढ़े

Facebook Account को Permanent Delete कैसे करते है?

Google Meet क्या है, यह कैसे काम करता है तथा इसे कैसे Download करे?

Search Engine क्या है तथा यह कैसे काम करता है ?

Server क्या होता है तथा server down किसे कहते है? - New!

Website किसे कहते है तथा Static और Dynamic Webpage में क्या अंतर है ?

टिप्पणी पोस्ट करें

2 टिप्पणियां

Thanku Submit Own Valuable Comments For This Post