Latest Post

6/recent/ticker-posts

Shorthand (Steno) क्या होती है तथा Steno Hindi Typing Exam किस Font में लिया जाता है

आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की शॉर्टहैंड (Steno) क्या है इसके लिए क्या योग्यता होनी चाहिए तथा सरकारी परीक्षा में शॉर्टहैंड (Steno) की Computer में Hindi Typing किस Font में करवाई जाती है, तो सबकुछ जानने के लिए पूरी पोस्ट को ध्यान से पढ़े तथा पोस्ट पसंद आने पर शेयर और कमेंट्स कर हमें बताए की यह पोस्ट आपको कैसी लगी.   

 

शॉर्टहैंड के जनक (Father of Shorthand) 

 जॉन विलिस  को आधुनिक शॉर्टहैंड का जनक माना जाता है.

 

स्टेनोग्राफर किसे कहा जाता है 

वह व्यक्ति जो शार्ट हैंड (प्रतीकों) की मदद से किसी अन्य व्यक्ति के द्वारा कही जा रही बातों को कम समय में और सही लिखने की क्षमता रखता है, उसे स्टेनोग्राफर कहा जाता है | स्टेनोग्राफर को शॉर्टहैंड (स्टेनो /आशुलिपि) हेतु कंप्यूटर में हिदी टाइपिंग के लिए मंगल फॉण्ट पर टाइपिंग देनी होती है.  

स्टेनोग्राफर हेतु योग्यता

स्टेनोग्राफर पद पर नियुक्ति के लिए अभ्यर्थी को किसी भी संकाय में मान्यता प्राप्त संस्थान से कम से कम स्नातक की परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए | शार्ट हैंड सीखने के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम योग्यता  तो  होनी चाहिए |

 

Shorthand (Steno) क्या होती है तथा Steno Hindi Typing Exam किस Font में लिया जाता है

सरकारी नौकरी में Shorthand की जरुरत

हिंदी या अंग्रेजी किसी भी भाषा में शॉर्टहैंड सीखने के बाद सरकारी नौकरी लगने के चांस ज्यादा हो जाते हैं क्योंकि इन क्षेत्र में कंपटीशन कम होता है| राज्य स्तर पर और केंद्र स्तर पर स्टेनोग्राफर के लिए सरकारी पद बहुत निकलते हैंकेंद्र स्तर पर SSC में तथा राज्य स्तर पर न्यायालय में स्टेनोग्राफर के पद निकलते हैं.

यहां पर एक बात जानना आपके लिए बहुत जरुरी है अगर आप हिंदी भाषा में स्टेनो सीख रहा है तो आपको  Hindi भाषा की Typing आनी चाहिए और अगर आप  इंग्लिश भाषा की स्टेनो सीख रहे है तो आपको English में Typing आना जरूरी है अब टाइपिंग से सम्बंधित सभी टेस्ट कंप्यूटर पर Notepad या Ms Word में लिए जाते है.

 

शॉर्टहैंड (स्टेनो /आशुलिपि) की स्पीड की गणना कैसे करे


आप दो मिनट की परीक्षण अवधि के दौरान अपने द्वारा सही ढंग से लिखे गए कुल शब्दों को जोड़ें और दो से उसे विभाजित करें जो भी परिणाम आयेगा वो आपका शॉर्टहैंड स्पीड wpm होगी

 

शॉर्टहैंड (स्टेनो /आशुलिपि) Course Duration

यह कोर्स की अवधि (Duration) 6 माह से 1 वर्ष तक होती है इसके आलावा बहुत कुछ सीखने और सिखाने वाले पर भी निर्भर करता है.


शॉर्टहैंड (स्टेनो /आशुलिपि) के लिए किस पेंसिल का इस्तेमाल करना अच्छा होता है  


शॉर्टहैंड (स्टेनो /आशुलिपि) इसके लिए डार्क पेंसिल होनी चाहिए जैसे - APSARA 100 STENO HB PENCIL आदि.


शॉर्टहैंड (स्टेनो /आशुलिपि) स्पीड कितने शब्द प्रति मिनट


शॉर्टहैंड में सरकारी नौकरी हेतु कम से कम 60-80 शब्द प्रति मिनट की गति होनी चाहिए।

 

स्टेनो और आशुलिपि के बीच अंतर क्या है


स्टेनो और शॉर्टहैंड के बीच कोई अंतर नहीं है  वह केवल एक कोर्स है, जिसे हमारे द्वारा स्टेनोग्राफी कहा जाता है।

 

शॉर्टहैंड (Steno) Typing हेतु Hindi Computer Font


अधिकतर सरकारी परीक्षाओ में शॉर्टहैंड (स्टेनो /आशुलिपि) हेतु कंप्यूटर में हिदी टाइपिंग के लिए मंगल फॉण्ट पर टाइपिंग करवाई जाती है.  

 4 Differences between Krutidev and Mangal Remington Gail Typing in Hindi

5 Tips for increasing English Computer Typing Speed | टाइपिंग स्पीड बढ़ाने के 5 बेहतरीन टिप्स


अन्त में

आशा है की पूरी पोस्ट पढने के बाद आपको समझ में आ गया होगा ही शॉर्टहैंड क्या होता है तथा शॉर्टहैंड के लिए कौन सी हिंदी टाइपिंग का आना अनिवार्य है.



UPPSC-2021 ARO POST O LEVEL EQUIVALENT DEGREE AND HINDI TYPING FONT - New!

Why Mangal Font is Compulsory for Hindi Typing Test | हिंदी टाइपिंग टेस्ट के लिए मंगल फॉण्ट क्यों अनिवार्य है

how to use google input tools in ms word in hindi

टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां

Thanku Submit Own Valuable Comments For This Post